Biology and Parts of Biology in Hindi

Biology

परिभाषा :- विज्ञान की वह शाखा जिसके अंतर्गत सजीवों के उद्भव विकास आदि का अध्ययन किया जाता है उसे जीव विज्ञान {Biology} कहते हैं |

जीव विज्ञान की विभिन्न शाखाएं होती हैं {There are various branches of biology} :-

जंतु विज्ञान, वनस्पति विज्ञान, सूक्ष्म जीव विज्ञान, आकारिकी, शरीर रचना विज्ञान, कोशिका विज्ञान, अनुवांशिकी, वर्गिकी, पारिस्थितिकी, उद्विकास, कीट विज्ञान, जीवाश्म विज्ञान, रोग विज्ञान, परजीवी विज्ञान, मत्स्य विज्ञान,  जैव प्रौद्योगिकी आदि |

  1. जंतु विज्ञान {Zoology}:- जीव विज्ञान की वह शाखा जिसमें जंतुओं के बारे में अध्ययन किया जाता है उसे जंतु विज्ञान कहता है |
  2. वनस्पति विज्ञान {Botany}:- जीव विज्ञान की भाषा जिसमें केवल पौधों के बारे में अध्ययन किया जाता है उसे वनस्पति विज्ञान कहते हैं |
  3. सूक्ष्मजीव विज्ञान {Microbiology} :- विज्ञान की वह शाखा जिसमे सूक्ष्मजीवों के बारे में अध्ययन किया जाता है उसे सूक्ष्मजीव विज्ञान कहते है |
  4. आकारिकी {Morphology} :- जीव विज्ञान की वह शाखा जिसमे सजीवों के बाहर व अन्दर की संरचना का अध्ययन किया जाता है उसे आकारिकी कहते है |
  5. कोशिका विज्ञान {Cytology} :- इसमें सजीव की कोशिका का अध्ययन किया जाता है |
  6. आनुवंशिकी {genetics} :- इसके अनतेरगत जीवों के लक्षणों के पीढी दर पीढी स्थानांतरण एवम् विभिन्नताओं के बारे में पढ़ा जाता है |
  7. कार्यिकी {Physiology} :- इस शखा में शरीर के भीतर सभी संचलित जैवक्रियाओं को समझा जाता है |
  8. वर्गिकी {Taxonomy} :- इसके अंतर्गत जीवों का समानता एवं विषमता के आधार पर वर्गीकरण किया जाता है |
  9. पारिस्थितिकी {Ecology} :- इस शाखा में जीवों का समानता के आधार पर वर्गीकरण एवं इसके सिद्धांतो का अध्ययन किया जाता है |
  10. कीट विज्ञान {Entomology}:- इसमें कीटों का अध्ययन किया जाता है |
  11. जीवाश्म विज्ञान {Paleontology} :- विलुप्त जीव के जीवाश्म का अध्ययन किया जाता है |
  12. रोग विज्ञान {Pathology}:- इस शाखा में जीवो के रोगों के कारण, लक्षण, कारक आदि का अध्ययन किया जाता है
  13. परजीवी विज्ञान {Parasitology} :- इस शाखा में विभिन्न प्रकार के परजीवीयों का अध्ययन किया जाता है |
  14. मत्स्य विज्ञान {Ichthyology} :- इस शाखा में मत्स्य वर्ग के प्राणियों का अध्ययन किया जाता है

Post a Comment

0 Comments